Home / Uncategorized / लता वर्गीय पौधों से आमदनी के साथ-साथ उनकी छाँव में पशुओं को भी बचाएं गर्मी से

लता वर्गीय पौधों से आमदनी के साथ-साथ उनकी छाँव में पशुओं को भी बचाएं गर्मी से


के.एल. दहिया1 एवं अत्तर सिंह2
पशु चिकित्सक, राजकीय पशु हस्पताल हमीदपुर1 एवं दबखेड़ा2 (कुरूक्षेत्र) हरियाणा

पशुओं को गर्मी से बचाने के लिए पेड़ों की छाया अच्छी रहती है लेकिन अब भरपूर संख्या में छायादार पेड़ न होने के कारण कृत्रिम छाया जैसे कि पक्की या एस्बेस्टस शीट से बनी छत्त इत्यादि का प्रबंध किया जाता है जिसे बनाना बहुत ही मंहगा होता है। पशुओं को गर्मी से बचाना बहुत ही मंहगा कार्य है। लेकिन फल-सब्जी इत्यादि लता वाले पौधों को उगाकर न केवल इस खर्च से बचा जा सकता है बल्कि पशुओं को छाया प्रदान करने के साथ-साथ इन पौधों से फल-सब्जी भी ली जा सकती हैं।

लता-वर्गीय-पौधों-से-आमदनी-के-साथ-साथ-उनकी-छाँव-में-पशुओं-को-भी-बचाएं-गर्मी-से

+14-014 ratings

About admin

Check Also

तापघात से बचें पशुपालक एवं किसान

के.एल. दहिया1 एवं अत्तर सिंह2पशु चिकित्सक, राजकीय पशु हस्पताल हमीदपुर1 एवं दबखेड़ा2 (कुरूक्षेत्र) हरियाणा भारत …

3 comments

  1. Very nice article Sir 👏👏

  2. Dr. K.L. Dahiya

    पशु पालक अपने पशुओं को गर्मी से बचाने के लिए बहुत सा धन खर्च करते हैं लेकिन अंगुर जैसे लतावर्गीय पौधों की बेलों को पशुओं के बाड़े के ऊपर चढ़ाकर बहुत ही कम खर्च में उनको छाया प्रदान करने के साथ-साथ स्वास्थ्यवर्द्धक फलों की पैदावार भी प्राप्त कर सकते हैं। इस तरह पशुपालक ‘आम के आम, गुठलियों के दाम’ कहावत को चरितार्थ कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *